चूहा बेचकर कैसे बना करोड़पति

चूहा बेचकर कैसे बना करोड़पति

चूहा बेचकर कैसे बना करोड़पति बेचकर कैसे बना करोड़पति वाराणसी में एक सेठ था।

एक दिन वह दुकान की ओर जा रहा था।

रास्‍ते में एक मरा हुआ चूहा पड़ा था। उसे देखकर वह एक क्षण के लिए रुक गया।

वह उस चूहे को देखते हुए कुछ सोचने लगा।

“नगर सेठ, क्‍या सोच रहे हो?” किसीने पूछा।

“यही सोच रहा हूँ कि यदि कोई समझदारी से काम करे तो इस चूहे को बेचकर भी लखपती बन सकता है।“

नगर सेठ की बात एक गरीब बनिये ने सुन ली। नगर सेठ के जाते ही उसने वह चूहा उठा लिया और बाजार में घूमने लगा।

तभी एक महाजन ने अपनी बिल्ली के भोजन के लिए वह चूहा खरीद लिया।

बनिये ने उन पैसों से थोड़ा गुड़ और एक घड़ा खरीदा घड़े में पानी भरकर वह एक मार्ग पर बैठ गया।

जंगल से लौटनेवाले लकड़हारे और माली उसी मार्ग से आते थे।

थके हुए लकड़हारे तथा माली गुड़ खाकर और पानी पीकर बहुत प्रसन्‍न हुए।

उन्‍होंने उसे बदले में लकडि़याँ और फूल दिए। बनिये ने लकडियॉं और फूल बेचकर फिर पैसे कमाए।

उसी मार्ग पर वह प्रत्‍येक दिन नियमित रूप से जा बैठता। कुछ दिनों बाद उसने घास काटनेवालों को भी पानी पिलाना शुरू कर दिया।

बदले में वह उनसे घास का एक-एक पूरा लेने लगा।

एक दिन बनिये को पता लगा कि कुछ ही दिनों में घोड़ों का एक व्‍यापारी पॉंच सौ घोड़े लेकर आने वाला है।

बनिये के पास कुछ घास तो पहले से थी। अब उसे बचे धन से घसियारों की घास भी खरीद ली।

घोड़ों का व्‍यापारी जब आया तब उसे घास की जरूरत पड़ी। वह सारे नगर में घूमा, पर कही घास न मिली।

अंत में वह उस बनिये के पास आया और भारी कीमत देकर घास खरीद ले गया।

उस बनिये के पास काफी धन हो गया। उन्‍हीं दिनों एक व्‍यापारी नाव में माल भरकर आया।

बनिये ने अपनी चतुर बुद्धि से सारे माल का सौदा कर लिया।

फिर उस माल को दूने दाम पर नगर के व्‍यापारियों को बेच दिया।

इस तरह बिना धन लगाए ही उसे एक लाख रुपयों का लाभ हुआ।

अब वह बनिया नगर सेठ के पास पहुँचा। उसने एक लाख रुपयों की थैली दिखाकर सारी कहानी सुना दी।

“धन मैंने आपकी प्रेरणा से ही कमाया है।“ बनिये ने कहा।

“इसमें मेरा कुछ नहीं है। सब तुम्‍हारे प्रयत्‍न का फल है।“

“लेकिन इससे यह सिद्ध हो गया है कि समझदार और चतुर व्‍यक्ति वही है जो थोड़े से साधनों से भी अपना काम बढ़ाकर जीवन में उन्‍नति कर सकता है।

आशा है, तुम्‍हारी यह कहानी भविष्‍य की पीढि़यों को प्रेरणा देगी।“

इसे भी पढ़े: लोभी तोते का हाल

नवीनतम सरकारी रोजगार समाचार हेतु इस वेबसाइट में विजिट करे :  https://freesolution.in

Close
Social profiles